simran and anna

अमरीश पुरी बॉलीवुड का सबसे बरा खलनायक. वह ४०० से जादा फिल्मों में मुख्या या समर्थन भूमिका के रूप में काम किया.

अमरीश पुरी नवांशहर पंजाब में पैदा हुआ था. उसके दो बड़े भाई है जो भी अभिनेता है और दो बहनों है. वह शिमला चले जाता है जहां वह बी एम कोलेज से पढाई करता है. वह अपने बड़े भाइयों के नक्शेकदम में मुंबई गया था. उसके बड़े भाई भी अपने खलनायक भूमिका के लिए जाने जाते थे.

अमरीश पुरी अपने पहले स्क्रीन टेस्ट में विफल रह गया और पृथ्वी ठेअतरे में नाटकों में अभिनय शुरू कर दिया. वह एक जाना पेच्चाना मुंच अभिनेता बन गया और संगीता नाटक अकादेमी अवार्ड जीता. उसकी मंच अभिनेता ने उसे टीवी विज्ञापनों और फिर ४० साल की उम्र में पहली फ़िल्म तक पहुंचाया.
अमरीश पूरी ने हिन्दी, कन्नड़, मराठी, हॉलीवुड, पंजाबी, मलयालम, तेलुगू और तमिल फिल्मों में काम किया. यह सब इन्दुस्त्रियों में उसने बहुत अच्छा काम किया पर उसकी पहेचान बॉलीवुड सिनेमा से बनती है. वह ओनी मध्यम आवाज़ जाना जाता है. उसकी फिल्म मिस्टर इंडिया में वह मोगाम्बो का भूमिका लेता है जिस में उसकी एक लाइन मशहूर है: "मोगाम्बो खुश हुआ."